बुधवार, जुलाई 17, 2024
होमरोजगारPM नेशनल अप्रेंटिसशिप मेला आठ मई को, 200 से अधिक जिलों में...

PM नेशनल अप्रेंटिसशिप मेला आठ मई को, 200 से अधिक जिलों में होगा आयोजन

केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (MSDE) स्किल इंडिया मिशन के तहत आठ मई, 2023 को प्रधानमंत्री नेशनल अप्रेंटिसशिप मेला (PMNAM) देश भर के 200 से अधिक जिलों में आयोजित कर रहा है।

National Apprenticeship Mela: कंपनियां ऑन स्पॉट करेंगी भर्ती 
एमएसडीई की ओर से स्थानीय युवाओं को प्रासंगिक अप्रेंटिसशिप रोजगार कम ट्रेनिंग के अवसर प्रदान करने के लिए कई स्थानीय व्यावसायियों, संगठनों, सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की कंपनियां इस मेले का हिस्सा बनने वाली हैं। अप्रेंटिसशिप मेले में कंपनियां ऑन स्पॉट योग्य कार्मिकों और अप्रेंटिस की भर्ती करेंगी। इससे आवेदकों को नए कौशल सीखने और अपनी आजीविका को मजबूत करने का अवसर मिलेगा।
National Apprenticeship Mela: कौन हैं भाग लेने के योग्य?
नेशनल अप्रेंटिसशिप मेले में भाग लेने के लिए उम्मीदवार apprenticeshipindia.gov.in पर जाकर मेले के लिए पंजीकरण करा सकते हैं और मेले के निकटतम स्थान का पता लगा सकते हैं। वे उम्मीदवार जो कक्षा पांचवीं से 12वीं पास हैं या जिनके पास कौशल प्रशिक्षण के प्रमाण-पत्र हैं या आईटीआई प्रमाण-पत्र धारक हैं या डिप्लोमा होल्डर हैं या ग्रेजुएट हैं, वे इस अप्रेंटिसशिप मेले में आवेदन कर सकते हैं। उम्मीदवारों को अपने रिज्यूमे की तीन प्रतियां, सभी मार्कशीट और प्रमाण-पत्रों की तीन प्रतियां, फोटो पहचान पत्र (आधार कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस आदि) और तीन पासपोर्ट आकार के फोटो संबंधित स्थानों पर ले जाने होंगे।

National Apprenticeship Mela: दस्तावेजों के साथ पहुंचे उम्मीदवार

उम्मीदवार अप्रेंटिसशिप मेले की लोकेशन देखने के लिए मेला पोर्टल dgt.gov.in/appmela2022 पर भी विजिट कर सकते हैं। जिन लोगों ने पहले ही नामांकन कर लिया है, उनसे सभी प्रासंगिक दस्तावेजों के साथ कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने का अनुरोध किया जाता है। इस मेले के माध्यम से, उम्मीदवार राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण परिषद (NCVET) से मान्यता प्राप्त प्रमाणन भी प्राप्त करेंगे, प्रशिक्षण सत्रों के बाद उनकी रोजगार दर में सुधार होगा। अधिक जानकारी के लिए उम्मीदवार msde.gov.in पर विजिट कर सकते हैं।

National Apprenticeship Mela: पढ़ाई एवं प्रशिक्षण के दौरान वजीफे की पेशकश

कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय के सचिव अतुल कुमार तिवारी ने बताया कि देश के विकास और ग्रोथ को बढ़ाने के लिए, अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग को प्राथमिकता दी जानी चाहिए ताकि कार्य-आधारित शिक्षा के अवसर पैदा करने में मदद मिल सके। इसके साथ ही पढ़ाई एवं प्रशिक्षण के दौरान युवाओं को वजीफे की पेशकश की जा सके, इसलिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय शिक्षुता मेले आयोजित किए जाते हैं।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments