शनिवार, फ़रवरी 24, 2024
होमअमेठीBJP नेता ने UP पुलिस को लगा दिया करोड़ों रुपये का चुना

BJP नेता ने UP पुलिस को लगा दिया करोड़ों रुपये का चुना

अमेठी पुलिस ने BJP नेता से पुलिस लाइन बनाने के लिए जमीन खरीदी. इसके लिए पुलिस विभाग की ओर से करीब दो करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया गया, लेकिन बाद में जब रिकवरी का नोटिस आया तो पता चला कि बीजेपी नेता ने पुलिस के साथ फ्रॉड किया है.

यूपी के अमेठी में एक BJP नेता ने पुलिस के साथ ही हेराफेरी कर दी. पुलिस लाइन के निर्माण के लिए पुलिस विभाग ने उससे दो करोड़ रुपये की जमीन खरीदी थी. ये जमीन 78 लाख रुपये के लोन की वजह से बैंक में गिरवी रखी हुई थी, लेकिन बीजेपी नेता ने फर्जी कागजातों की मदद से इसका बैनामा कर दिया. पुलिस विभाग को जब रिकवरी का नोटिस मिला तो उसके होश उड़ गए और आनन-फानन में BJP नेता के खिलाफ FIR दर्ज करवाई.

 

BJP नेता ओम प्रकाश मिश्रा उर्फ प्रकाश मिश्रा ने अमेठी पुलिस को करीब 78 लाख रुपये का चूना लगाया है. दरअसल प्रकाश मिश्रा ने अपनी जमीन को गिरवी रखकर 78 लाख का लोन लिया था और फिर इसी जमीन को अमेठी पुलिस को करीब दो करोड़ रुपये में बेच दिया. अमेठी के एसपी इलामरन जी ने सोमवार को बताया कि BJP नेता ​​प्रकाश मिश्रा ने जालसाजी की है और उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

उन्होंने बताया कि यह जमीन गौरीगंज तहसील के अंतर्गत चौहानपुर गांव में स्थित है. प्रकाश मिश्रा ने 27 जुलाई 2017 को इसका बैनामा कराया था. जमीन बेचने से पहले उनसे बैंक ऑफ इंडिया से 78 लाख रुपये का कर्ज भी लिया था और जमीन बैंक के पास गिरवी रखी हुई थी. अमेठी पुलिस ने जमीन के बदले बीजेपी नेता को एक करोड़ 97 लाख रुपये भुगतान किए थे. रजिस्ट्री के दौरान प्रकाश मिश्रा ने इस बारे में पुलिस को कोई जानकारी नहीं दी थी.

आपको बता दें, ये मामला तब सामने आया, जब 3 जनवरी 2023 को ऋण वसूली ट्रिब्यूनल, इलाहाबाद का वसूली नोटिस आया. पुलिस लाइन अमेठी में रिजर्व इंस्पेक्टर द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर 24 मार्च को प्रकाश मिश्रा के खिलाफ IPC की धारा 409 (आपराधिक विश्वासघात), 419 (प्रतिरूपण द्वारा धोखा), (धोखाधड़ी), 467 (मूल्यवान सुरक्षा, वसीयत आदि की जालसाजी), 468 (धोखाधड़ी के उद्देश्य से जालसाजी) और  471 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

इस मामले में अमेठी जिला के BJP अध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी ने कहा कि मिश्रा एक पार्टी कार्यकर्ता हैं और उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. त्रिपाठी ने कहा कि कानून अपना काम करेगा और दोषी पाए जाने पर मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments