शनिवार, फ़रवरी 24, 2024
होमराजनीतिBJP के बड़े नेता क्यों कर रहे Rajasthan का दौरा? जानिए वजह

BJP के बड़े नेता क्यों कर रहे Rajasthan का दौरा? जानिए वजह

कमजोर सीटों को जीतने की राष्ट्रीय स्तर पर बनी भाजपा की रणनीति के तहत केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भरतपुर आ रहे हैं। राजस्थान के सात संभागों में से भाजपा के लिए भरतपुर और जयपुर संभाग ही सबसे कमजोर कड़ी है।
पिछले चुनाव में भरतपुर संभाग के चार जिलों में से तीन जिलों में भाजपा का खाता भी नहीं खुला था। भरतपुर, करौली और सवाईमाधोपुर में भाजपा की स्थिति शून्य रही जबकि धौलपुर में सिर्फ एक सीट पर जीत मिली थी।
बाद में इस सीट से जीती शोभारानी कुशवाह को भी पार्टी से बाहर कर देने के कारण मौजूदा समय में भरतपुर संभाग की 19 सीटों पर भाजपा का कोई विधायक नहीं है।
इस बार भाजपा का पूरा फोकस सोशल इंजीनियरिंग के साथ बूथ मजबूत करने पर है। जिन संभागों में भाजपा की स्थिति कमजोर है वहां पार्टी को मजबूती देने का जिम्मा खुद केंद्रीय नेतृत्व ने उठा रखा है।

इसी रणनीति के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्‌डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के राजस्थान में दौरे हो रहे हैं। केंद्रीय नेताओं के दौरों में उन्हीं क्षेत्रों काे फोकस किया जा रहा है जहां भाजपा की स्थिति कमजोर है।
मीणा-गुर्जर और एससी बहुल पूर्वी राजस्थान में भाजपा की स्थिति बेहद कमजोर होने के कारण ही केंद्रीय नेताओं के इस क्षेत्र में बार-बार दौरे हो रहे हैं। सवाईमाधोपुर में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा का दौरा पहले ही हो चुका है।

इसके बाद फरवरी में प्रधानमंत्री मोदी भी दौसा में सभा कर चुके हैं, जिसमें भाजपा ने पूर्वी राजस्थान के आठ जिलों से भीड़ जुटाकर खुद की स्थिति मजबूत करने की कोशिश की थी। अब शाह भरतपुर आ रहे हैं।

आपको बता दें पिछले चुनाव में भरतपुर संभाग भाजपा के लिए सत्ता से बाहर होने का बड़ा कारण बना था। यहां पार्टी को बुरी तरह शिकस्त झेलनी पड़ी। 2013 के चुनाव में जहां 19 में से बीजेपी ने 11 सीटें जीती थीं, वहीं 2018 के चुनाव में महज एक सीट पर अटक गई।

यह एक सीट धौलपुर सीट थी जहां से शोभारानी कुशवाह भाजपा के टिकट पर जीती थीं। बाद में शोभारानी ने राज्यसभा चुनाव में क्रोस वोटिंग करके कांग्रेस के उम्मीदवार के पक्ष में मतदान किया। जिसके कारण भाजपा ने उनको पार्टी से बाहर कर दिया। यानी भरतपुर संभाग में आज की स्थिति में बीजेपी का कोई विधायक नहीं है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments