गुरूवार, अप्रैल 25, 2024
होमहाथरसहाथरस अमृत सरोवर मंत्रोच्चारण के साथ फीता काटकर लोकार्पण किया, मा0...

हाथरस अमृत सरोवर मंत्रोच्चारण के साथ फीता काटकर लोकार्पण किया, मा0 राज्यमंत्री और जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक रहे मौजूद

राज्यमंत्री इलेक्ट्रोनिक्स तथा सूचना प्रौद्योगिकी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग उत्तर प्रदेश श्री अजीत पाल सिंह जी ने विधायक सदर श्रीमती अंजुला सिंह माहौर, विधायक सिकंदराराव वीरेन्द्र सिंह राणा, जिलाध्यक्ष गौरव आर्य, जिलाधिकारी रमेश रंजन, पुलिस अधीक्षक देवेश कुमार पांडेय व मुख्य विकास अधिकारी साहित्य प्रकाश मिश्र की उपस्थिति में विकास खण्ड सासनी के ग्राम पंचायत खौरना में बनाए जा रहे अमृत सरोवर का विधि विधान पूर्वक मंत्रोच्चारण के साथ फीता काटकर लोकार्पण किया। राज्यमंत्री का जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने बुके देकर स्वागत किया।

राज्यमंत्री जी ने पीपल का वृक्ष लगाकर आम जनमानस तथा उपस्थित लोगों से अपने जीवन काल में अधिक से अधिक वृक्ष लगाने एवं उनको संरक्षित करने का आवाहन किया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ एवं प्रदूषण मुक्त बनाये रखने में वृक्षों का अहम योगदान है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र-प्रदेश सरकार द्वारा पर्यावरण के संरक्षण हेतु अभियान चलाकर वृक्षारोपण एवं वनों का संरक्षण तथा जलस्तर को बनाये रखने के दृष्टिगत अमृत सरोवर योजना के अंतर्गत तालाबों का जीर्णोद्धार कराया जा रहा है। सरकार द्वारा चलाई गई अमृत सरोवर योजना बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है। उन्होंने कहा कि इन अमृत सरोवरों को बहुउद्देश्यीय स्वरूप में बनाया जायेगा। सरोवर आपकी धरोहर हैं, इन्हें सजोकर रखे तथा इन सरोवरों को सुंदर बनाने में अपनी अहम भूमिका निभायें। मानव जीवन का आधार जल है, जल है तो कल है। जल स्तर को सामान्य बनाए रखने के लिए पूर्व में बने हुए तालाबों का जीर्णोद्वार अमृत सरोवर योजना के अर्न्तगत कराया जा रहा हैं। जिससे जनपद के भूगर्भ जल का संरक्षण व संवर्धन हो सके।

मुख्य विकास अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जल संरक्षण हेतु भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही महत्वाकांक्षी योजना के तहत जनपद की 75 ग्राम पंचायतों में 15 अगस्त 2022 तक 92 अमृत सरोवरों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। शेष 39 तालाबों का अमृत योजना के तहत जीर्णोद्धार का कार्य कराया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि इस ग्राम पंचायत के तालाब का क्षेत्रफल 0.495 हेक्टेयर है। जिसका निर्माण रुपये 39.80 लाख से महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम के अंतर्गत मनरेगा मजदूरों से कराया गया है। जिसमें एक मजदूर की दैनिक मजदूरी 213 रुपये देय है। इन तालाबों में अमृत सरोवर योजना के तहत तालाब के चारों ओर चौड़ा पाथ, ऊंची दीवार के साथ चौड़ी रैम्प सीढ़ी युक्त, आउट लेट/इन लेट व तालाब के चारों ओर तार के माध्यम से फैंसिंग का कार्य कराया गया है।

इसके पश्चात विकास खण्ड सासनी के ग्राम पंचायत खौरना में आयोजित चौपाल के दौरान उपस्थित विभागध्यक्षों ने शासन द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई तथा विभागों द्वारा संचालित योजनाओं से आच्छादित लाभार्थियों के बारे में भी जानकारी दी गई। आयोजित चौपाल के दौरान राज्य मंत्री जी ने आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों व आंगनवाड़ी सहायिकाओं को साड़ी भेंट की।

राज्य मंत्री जी ने समस्त विभागीय अधिकारियों को केन्द्र/प्रदेश सरकार द्वार चलाई जा रही महत्वाकांक्षी योजनाओं का मुख्य उददेश्य आम जनमानस के जीवन स्तर में वृद्धि करना है। उन्होंने चालाई जा रही योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए अंत्योदय योजना के अंतर्गत अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक पहुँचाने के निर्देश दिए। कार्यक्रम का सफल संचालन जिला सूचना स्वास्थ्य अधिकारी चतुर सिंह द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में ग्राम प्रधान भव्य रावत ने राज्य मंत्री विधायकगणों व अधिकारियों का आभार व्यक्त कर धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सासनी, जिला विकास अधिकारी, डी0सी0 मनरेगा, परियोजना निदेशक, उप निदेशक कृषि, जिला पंचायतराज अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी, ग्राम सचिव, जे0ई0, ग्राम प्रधान आदि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments