रविवार, अप्रैल 21, 2024
होमराजनीतिलोकसभा में प्रियंका गांधी इस सीट से लडेंगी चुनाव

लोकसभा में प्रियंका गांधी इस सीट से लडेंगी चुनाव

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए कांग्रेस बड़े गेम प्लान की तैयारी कर रही है। कहा जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को चुनावी राजनीति में उतारने जा रही है। इसके लिए वह अपनी दादी इंदिरा गांधी के नक्शेकदम पर चलते हुए तेलंगाना से चुनाव लड़ सकती हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में तेलंगाना से प्रियंका गांधी को मैदान में उतारने पर गंभीरता से विचार कर रही है। उन्हें मेदक या महबूबनगर लोकसभा सीट से मैदान में उतारा जा सकता है।

इंदिरा के नक्शेकदम

अगर पार्टी प्रियंका गांधी का नाम फाइनल करती है तो वह तेलंगाना से अपनी चुनावी राजनीति की शुरुआत करेंगी। तेलंगाना कांग्रेस परिवार के लिए नया राज्य नहीं है. 1980 के लोकसभा चुनाव में इंदिरा गांधी ने मेदक सीट से जीत हासिल की थी और सत्ता में वापसी की थी। 1980 का चुनाव इंदिरा गांधी के लिए बहुत की मुश्किल चुनाव था। इसके पहले इमरजेंसी के बाद इंदिरा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस 1977 का चुनाव बुरी तरह हारी थीं। खुद इंदिरा रायबरेली सीट से चुनाव हार गई थीं।कांग्रेस एक बार फिर से मुश्किल दौर से जूझ रही है. यही वजह है कि इस बार मेदक सीट से प्रियंका गांधी पर दांव लगाने की तैयारी की जा रही है। पार्टी को लगता है कि जिस तरह तब जनता ने इंदिरा गांधी को स्वीकार किया था, उसी तरह प्रियंका को भी करेगी। पार्टी नेताओं ने प्रियंका गांधी से मेदक सीट से चुनाव लड़ने को लेकर चर्चा की है।

मेदक और महबूबनगर विचार चल रहा है

मेदक के साथ ही राज्य की महबूबनगर सीट को लेकर भी कांग्रेस में विचार चल रहा है. दरअसल मेदक लोकसभा सीट भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) का गढ़ है. बीआरएस नेता और तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने 2009 में महबूबनगर लोकसभा सीट से जीत हासिल की थी. इसके बाद 2014 के चुनाव में उन्होंने मेडक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की. इसी साल वह विधायक भी चुने गए थे और उन्होंने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. उपचुनाव में भी बीआरएस के के प्रभाकर रेड्डी को जीत मिली।

इसके साथ ही मेदक केसीआर का गृह जनपद भी है। पार्टी ने 2014 में मेदक संसदीय क्षेत्र के अंदर आने वाले सभी 7 विधानसभा क्षेत्रों जीत हासिल की थी। 2018 में बीआरएस ने 6 सीटें जीती थीं. ऐसे में मेदक से प्रियंका का उतरना नुकसान उठाने वाला हो सकता है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments