गुरूवार, अप्रैल 25, 2024
होमब्रजSikandraRao/Hasayanराजाओं के पास धन की कमी पूरी करते थे भामाशाहः ओम बिरला

राजाओं के पास धन की कमी पूरी करते थे भामाशाहः ओम बिरला

अलीगढ़  (ब्रजांचल ब्यूरो ) ।

वैश्य समाज को आगे बढ़ाएं ताकि सामूहिकता के साथ देश राष्ट्र की सेवा समर्पण का काम कर सके उक्त उदगार आगरा रोड स्थित एक फार्म हाउस में अधिवेशन को संबोधित करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने दिये ।

उन्होंने कहा कि इस देश के अंदर वैश्य समाज का राष्ट्र निर्माण में बड़ा व्यापक योगदान रहा है। आजादी की लड़ाई हो आजादी के बाद नए भारत के निर्माण की बात हो। आजादी की लड़ाई में भी विश्व कल्याण में समाज ने बहुत बड़ा योगदान दिया और उसके पहले राजाओं के राज में भी जब राजा युद्ध लड़ते थे। उन्हें अपने राज को बचाने व हिंदू को बचाने के लिए देश को बचाने के लिए उस समय राजाओं के पास भी धन की कमी हो जाती तो भामाशाह के रूप में आप जैसे लोग सहयोग करते थे। आज भी वही संस्कार है, आज भी वही विचार हैं कि किस तरीके से हम नए भारत के निर्माण में अपना सहयोग करें। नए भारत के निर्माण में सहयोग करना है तो सबको सामूहिक रूप से सहयोग करना होगा और इसीलिए वैश्य समाज आजादी के बाद इस देश में कल-कारखाने हो या उद्योग, व्यापार ताकि हम देश को एक नई गति की ओर ले जा सके।

40 को मरणोपरांत भामाशाह रत्न

अधिवेशन के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में अहम योगदान देने वाली 40 हस्तियों को मरणोपरांत भामा शाह रत्न से नवाजा । यह सम्मान इनके स्वजनों को दिया जाएगा। इनमें महान संगीतकार रवींद्र जैन, राम मंदिर आंदोलन के प्रेणता अशोक सिंघल, अभिनेता भारत भूषण, पूर्व मुख्य मंत्री सीवी गुप्ता, पूर्व विधायक केके नवमान शामिल हैं।

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments