बुधवार, अप्रैल 24, 2024
होमराष्ट्रीयमीडिया को रचनात्मकता, गुणात्मकता व सकारात्मकता के साथ कार्य करना चाहिए :...

मीडिया को रचनात्मकता, गुणात्मकता व सकारात्मकता के साथ कार्य करना चाहिए : ऋतु खण्डूरी

 सदभाव बढ़ाने में मीडिया की भूमिका” पर    देश के शीर्ष पत्रकार सगठनों का देहरादून   में आयोजित हुआ सम्मेलन  

 

देहरादून।

देश के शीर्ष पत्रकार संगठन ऑल इण्डिया स्माल एंड मीडियम न्यूजपेपर्स फेडरेशन, अखिल भारतीय समाचार पत्र एसोसिएशन व इंडियन एसोसिएशन ऑफ प्रेस-एन- मीडिया मैन द्वारा शुक्रवार को हरिद्वार रोड़ स्थित अथिति भवन में ‘सामाजिक सदभाव बढ़ाने में मीडिया की भूमिका’ विषयक संयुक्त मीडिया सम्मेलन आयोजित किया गया।

 सम्मेलन को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष श्रीमती रितु खंडूरी ने कहा  कि सामाजिक सौहार्द बढ़ाने में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। विधानसभा अध्यक्ष ने  इस अवसर पर कहा कि मीडिया को जिम्मेदारी के साथ अपने कर्तव्य निर्वहन की आवश्यकता है।  मीडिया को रचनात्मकता, गुणात्मकता व सकारात्मकता के साथ कार्य करना चाहिए। उन्होंने पत्रकारिता के स्तर को ऊंचा उठाने व युवा वर्ग को अखबारों की ओर आकर्षित करने पर भी बल दिया।

सम्मेलन में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के वरिष्ठ सदस्य व ऑल इण्डिया स्माल एंड मीडियम न्यूजपेपर्स फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरदार गुरविंदर सिंह, अखिल भारतीय समाचार पत्र एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश चंद्र शुक्ल, प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के सदस्य एल. सी. भारती, राज्य सूचना आयुक्त योगेश भट्ट, उत्तराखंड इंडियन एसोसिएशन आफ प्रेस एंड मीडिया मैन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पवन सहयोगी व प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के पूर्व सदस्य अशोक नवरत्न विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

हिंदुस्तान की संस्कृति व सभ्यता को आज भी छोटे व मझौले अखबारों ने जिंदा रखा हुआ है –  गुरविंदर सिंह

इस अवसर पर आल इण्डिया स्माल एंड मीडियम न्यूजपेपर फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुरविंदर सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि वर्तमान के बदलते दौर से अधिकांश  छोटे व मझौले समाचार पत्र भयावह संकट के दौर से गुजर रहे है जबकि यह शास्वत सत्य है कि हिंदुस्तान की संस्कृति व सभ्यता को आज भी छोटे व मझौले अखबारों ने जिंदा रखा हुआ है। देश की सरकार को इस दिशा में ध्यान होगा।

लघु व मझोले समाचार पत्रों को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता –  अखिलेश चन्द्र शुक्ल 

अखिल भारतीय समाचार पत्र संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश चंद्र शुक्ल ने कहा कि सामाजिक सौहार्द, सद्भाव व समरसता को कायम रखने का मीडिया ही एकमात्र सबसे उचित सशक्त माध्यम है। सरकार को विशेषत: लघु व मझोले समाचार पत्रों को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है।

कार्यक्रम के अन्य वक्ताओं में अशोक वर्मा, दिनेश शक्ति त्रिखा, डीडी मित्तल, महेश शर्मा आदि प्रमुख थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments