गुरूवार, अप्रैल 25, 2024
होमराजनीतिमां का दूध पिया है तो पायलट पर कार्रवाई करो, छठी का...

मां का दूध पिया है तो पायलट पर कार्रवाई करो, छठी का दूध याद आ जाएगा!

सैनिक कल्याण राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने कहा कांग्रेस हाईकमान और प्रदेश प्रभारी को चेतावनी दी है। मंत्री ने कहा- ‘मैं चैलेंज देना चाहता हूं, मां का दूध पिया है तो सचिन पायलट के खिलाफ अनुशासन की कार्रवाई करके बताइए। छठी का दूध याद आ जाएगा।’

गुढ़ा सोमवार को झुंझुनूं के खेतड़ी में टीबा गांव में शहीद की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम के बाद हुई सभा में बोल रहे थे। सभा में पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी मौजूद थे।

गुढ़ा ने कहा कि मुझे लोग कहते हैं कि मुख्यमंत्री तुम्हें जेल भेज देंगे। जेल का लाइसेंस रिन्यू करने का टाइम आ गया है। राजस्थान की 36 कौम और सभी जाति के नौजवान पायलट के साथ खड़े हैं। जी जान देने के लिए तैयार हैं। जिस दिन जरूरत पड़ेगी।गुढ़ा ने कहा- मुख्यमंत्री की 63 साल की उम्र थी तब भी सरकार नहीं बना पाए। 100 के 21 बना दिए थे। अब हमारे मुख्यमंत्री 73 साल के हो गए हैं। 2013 में जवानी कुछ बची हुई थी। अब 73 के हो गए हैं। अब प्रचंड बहुमत आएगा। समाचार समाप्ति की तरफ जा रहे हैं। करोड़ों लोग यह भाषा नहीं सुन सकते, ये गद्दार, नाकारा निकम्मा। ये नहीं सुन सकते। हमारे धैर्य की परीक्षा नहीं ली जए। ये नौजवान बर्दाश्त करने वाला नहीं है। गुढ़ा तो कभी भी अनुशासनहीनता की कार्रवाई के लिए तैयार है, कभी कर देना। मेरे खिलाफ झूठे मुकदमे किए गए।

पायलट समर्थक विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने कहा कि पायलट का चेहरा आगे नहीं किया तो सरकार आना मुश्किल है। जिन नेताओं ने हमें यहां तक पहुंचाया है। उनकी हम शहादत नहीं होने देंगे। यह पायलट की ताकत थी। यह पायलट का ही चेहरा था। इसकी वजह से कांग्रेस की सरकार आई। आने वाले समय में भी अगर पायलट का चेहरा रहा तो ही कांग्रेस की सरकार रिपीट करेगी।

अगर इस चेहरे में थोड़ी सी भी मायूसी दिखी तो मुझे लगता है सरकार नहीं आएगी। जो मंत्री गुढ़ा ने कहा वह बात सही हो जाए। हम नहीं चाहते, जो गुढ़ा ने बात कही वह सही हो। कार्यकर्ता कांग्रेस की सरकार लाना चाहते हैं। कांग्रेसी कार्यकर्ता चाहते हैं। इसके चेहरे पर यह सरकार आई थी, उस चेहरे को चमकाना बहुत जरूरी है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments