गुरूवार, अप्रैल 25, 2024
होमकासगंजमहापुरुषों , पूर्वजों , ज्ञान वान बुजुर्गों से प्रेरणा लेनी है -...

महापुरुषों , पूर्वजों , ज्ञान वान बुजुर्गों से प्रेरणा लेनी है – रामदेव

स्वामी रामदेव के संबोधन के साथ संम्पन्न हुआ योग शिविर

कासगंज ।
सोरों रोड पर श्री गणेश इन्टर कॉलेज के क्रीड़ा स्थल बारह पत्थर मैदान पर तीन दिन से चल रहे योग चिकित्सा शिविर का समापन , स्वामी रामदेव के उद्बोधन के साथ हो गया।
समापन सत्र में स्वामी रामदेव ने कहा कि विद्यार्थी योग के अभ्यास से अवसाद,निराशा सहित अन्यान्य विकारों से बचते हुए अपने आप को संवार सकते हैं और परिवार , समाज और देश की उन्नति में सहायक हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमारा देश वीरता , पुरुषार्थ , त्याग, तपस्या, बलिदान , ज्ञान से ओतप्रोत रहा है हमें हमारे महापुरुषों , पूर्वजों , ज्ञान वान बुजुर्गों से प्रेरणा लेनी है तथा आहार विहार सात्विक रखते हुए बड़े उद्देश्य रखने की जरूरत है तथा किसी भी तरह की कुंठा, हताशा छोड़ कर परिवार , समाज और देश के लिए जीने की जरूरत है उन्होंने अपना उदाहरण देते हुए कहा कि एक मजदूर के घर जन्म लेने के बाद गोबर कूड़ा करने वाले साधारण से अति पिछड़े गांव के स्कूल में पढ़ कर गुरुकुल में पढ़ने वाले समाज और देश के लिए समर्पित इस साधक के आज विश्व में दो करोड़ से भी ज्यादा फालोवर हैं। लेकिन इन बातों के लिए पुरुषार्थ करना पड़ता है । उन्होंने बच्चों से और अविभावकों से कोल्ड ड्रिंक ,बर्गर ,पिज्जा जैसे फास्ट फूडों से बचने की सलाह दी।
उन्होंने कहा कि भारतीय शिक्षा में भारतीय शिक्षा परिषद् के पाठ्यक्रम के माध्यम से क्रांति कारी परिवर्तन होने जा रहा है जिसके माध्यम से हम भारतीयता को पोषित करैंगे। इस पाठ्यक्रम में वेद,पुराण, आध्यात्म, हमारे पूर्वजों , महापुरुषों,, ऋषियों, देशभक्तों, उपनिषदों,, स्मृतियों, गीता रामायण आदि के साथ आज की जरुरतों के अनुसार माडर्न विषय आदि भी पाठ्यक्रम में शामिल रहेंगे। उन्होंने पहली कक्षा से बारहवीं कक्षा तक के विद्यालयों से ऐफिलियेशन के लिए संस्थान से संपर्क की अपील भी की ।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments