शनिवार, जुलाई 20, 2024
होमराजनीतिबीजेपी ने यूपी में मिशन 80 का लक्ष्य रखा, महासंपर्क अभियान जारी

बीजेपी ने यूपी में मिशन 80 का लक्ष्य रखा, महासंपर्क अभियान जारी

लोकसभा चुनाव को लेकर बढ़ती सरगर्मियों के बीच बीजेपी ने यूपी में मिशन 80 का लक्ष्य रखा है। जिसको लेकर बीजेपी का 30 जून तक महासंपर्क अभियान चल रहा है। इसके बाद बीजेपी अपने संगठन में फेरबदल करेगी और मिशन 80 के लिए नई टीम तैयार करेगी। वहीं उत्तर प्रदेश में हारी हुई जो 14 लोकसभा सीटें हैं जिन्हें पार्टी ने रेड जोन में रखा है उन सीटों का जिम्मा अब पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने संभाल लिया है। इन 14 हारी हुई सीटों में से एक-एक सीट पर पार्टी के दिग्गज जनसभा कर पार्टी के पक्ष में माहौल तैयार करेंगे और मिशन 24 का आगाज करेंगे।

फिलहाल बीजेपी का सारा फोकस इन दिनों अपने महाजनसंपर्क अभियान को सफल बनाने पर है। जिसके लिए अलग-अलग कार्यक्रम तमाम लोकसभा और विधानसभा सीटों पर हो रहे हैं। पार्टी के सांसद, सरकार के मंत्री व विधायक सभी इन महासंपर्क अभियान के जरिए जहां कार्यकर्ताओं को चुनाव के लिए अभी से तैयार कर रहे हैं तो इसका मकसद केंद्र की मोदी सरकार की 9 साल की उपलब्धियों को आम लोगों तक पहुंचाने का है वहीं बीजेपी के महाजनसंपर्क अभियान के खत्म होने के बाद यूपी बीजेपी संगठन में कई बदलाव देखने को मिलेंगे। चर्चा है कि यूपी में बीजेपी के प्रभारी को बदला जाएगा. वर्तमान में राधामोहन सिंह यूपी के प्रभारी हैं। 2022 के चुनाव में उनके प्रभारी रहते बीजेपी ने दूसरी बार सत्ता हासिल की, लेकिन अब 2024 के लिए नए प्रभारी के नाम की चर्चा है इसमें सीआर पाटील का नाम सबसे ऊपर है। इसके अलावा विधानसभा चुनाव में प्रभारी रहे केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का भी नाम इस चर्चा में शामिल है, वहीं केंद्रीय मंत्री और 2017 में यूपी विधानसभा चुनाव में समन्वय का काम देखने वाले केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव के भी नाम को लेकर चर्चा काफी ज्यादा है। आपको बतादें केवल यूपी के प्रभारी को बदले जाने की बात नहीं है बल्कि यह बदलाव क्षेत्रीय स्तर से लेकर जिला स्तर तक होंगे, मोर्चों के भी अध्यक्ष बदले जाएंगे मीडिया टीम में भी बदलाव होगा यानी ऊपर से लेकर नीचे तक ओवरहालिंग होगी।

प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने संकेत दिए

मिशन 80 को पाने के लिए बीजेपी अपनी नई टीम तैयार करेगी। खुद प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने संकेत दिए हैं कि महासंपर्क अभियान के बाद संगठन में कुछ आंशिक फेरबदल देखने को मिलेगा जो पार्टी के हर स्तर पर होगा। जहां एक तरफ मिशन 80 के लिए नई टीम जल्द तैयार होगी तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी सभी लोकसभा सीट पर जनसभा कर रही है। बीजेपी ने जिन 14 सीटों को रेड जोन में रखा है ।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा श्रावस्ती सीट

वहां पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जिम्मा संभाल लिया है.बतादें 26 जून को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा श्रावस्ती सीट पर और 29 जून को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिजनौर सीट पर चुनावी जनसभा कर सकते हैं। बीजेपी ने पूरे देश की हारी हुई 160 लोकसभा सीटों पर जो कमेटी बनाई है उसमें यूपी में विनोद तावडे के साथ साथ लंबे समय तक काम करने वाले महामंत्री संगठन रहे सुनील बंसल भी हैं। इसके अलावा उन्हें महाजनसंपर्क अभियान का प्रभारी भी बनाया गया है।

2024 का लोकसभा चुनाव बहुत महत्वपूर्ण है

ऐसे में हारी हुई सीटों को लेकर पार्टी की जो रणनीति है उसकी कमान खुद दिग्गजों ने संभाल रखी है. इसी साल दोबारा अध्यक्ष बनने के बाद जेपी नड्डा ने अपने मिशन यूपी की शुरुआत गाज़ीपुर सीट से की थी और अब एक बार फिर उनका फोकस हारी हुई सीट को जीत में बदलने पर है। दरअसल बीजेपी के लिए 2024 का लोकसभा चुनाव बहुत महत्वपूर्ण है और उसमें भी उत्तर प्रदेश खासा महत्व रखता है क्योंकि जब पहली बार नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने तब भी उत्तर प्रदेश की 80 में से 73 सीटें बीजेपी के खाते में गई थी, 2019 में बीजेपी ने 80 में से 64 सीटों पर जीत हासिल की थी और अब जब पार्टी की तैयारी नरेंद्र मोदी को तीसरी बार पीएम की कुर्सी पर बैठाने की है तब एक बार फिर पूरा फोकस यूपी पर ही बीजेपी ने कर दिया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments