गुरूवार, मई 16, 2024
होमहाथरसबच्चों को खिलाई जाएगी पेट के कीड़े निकालने की दवा

बच्चों को खिलाई जाएगी पेट के कीड़े निकालने की दवा

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (एनडीडी) के तहत जनपद में कल से 1 वर्ष से 19 वर्ष के बालक बालिकाओं एवं किशोरों को पेट के कीड़े निकालने की दवा एल्बेंडाजोल की खुराक दी जाएगी। जिले में  7.50 लाख से अधिक बच्चों को यह  दवा खिलाई जानी है।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी डॉ. संतोष कुमार ने बताया। 1 से 19 वर्ष तक के सभी बच्चों को कृमि संक्रमण से बचाने के लिए जिले में  करीब 7.50 लाख  बच्चों को एल्बेंडाजोल की खुराक दी जाएगी। इसमें 1 से 2 वर्ष के बच्चों को 200 मि.ग्रा./ आधी गोली और 2 से 19 वर्ष के बच्चों को 400 मि.ग्रा. खिलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले के 1773 सरकारी स्कूलों, 926 निजी विद्यालयों और 1762 आंगनवाडी केन्द्रों पर बच्चों को यह  गोली दी जाएगी। इस अभियान में स्वास्थ्य विभाग को आईसीडीएस और शिक्षा विभाग का भी सहयोग रहेगा। यह गोली पूरी तरह से सुरक्षित है। किसी भी भ्रम में पड़ने की आवश्यकता नहीं है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. मंजीत सिंह ने कहा है। बच्चों को कुपोषण मुक्त बनाने और रक्त की कमी की समस्या को दूर करने के लिए राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के दौरान 1 से 19 वर्ष के पेट के कीड़े निकालने के लिए एल्बेंडाजोल खिलाई जाएगी।

डीसीपीएम धर्मेन्द्र कुमार ने बताया कि कल बच्चों को पेट के कीड़े निकालने के लिए दवा दी जाएगी।

कृमि संक्रमण के लक्षण:
1. बच्चों के शरीर में खून की कमी हो जाना।
2. बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी हो जाती है।
3. थकान महसूस करते रहना।
4. इससे बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास बाधित हो जाता है।

कृमि संक्रमण से बचाव के उपाय:
1. घरों के आसपास साफ-सफाई का ध्यान रखें।
2. नाखून साफ और छोटे रखें।
3. साफ और स्वच्छ पानी ही पिए।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments