गुरूवार, अप्रैल 25, 2024
होमब्रजSikandraRao/Hasayanप्रथम बार गर्भधारण करने के 730 दिनों तक ले सकते हैं, प्रधानमंत्री...

प्रथम बार गर्भधारण करने के 730 दिनों तक ले सकते हैं, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ

हाथरस,  (ब्रजांचल ब्यूरो)।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ प्रथम बार गर्भधारण करने वाली गर्भवती महिलाओं को 730 दिनों तक 3 किस्तों में मिल सकेगा। यदि कोई महिला लाभार्थी गर्भधारण के समय योजना का फॉर्म नही भर पाती है, तो उसके द्वारा बच्चे के जन्म से                            460 दिनों के भीतर योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है। हाथरस जिले में अब तक प्रथम बार गर्भधारण करने वाली 40,336 गर्भवती महिलाओं को 150828000 रुपए की धनराशि महिला लाभार्थी के खाते में राज्य स्तर से सीधे खाते में भेजी जा चुकी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ चंद्र मोहन चतुर्वेदी के द्वारा बताया गया कि योजना संबंधी किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए राज्य सरकार द्वारा लाभार्थियों की सुविधा के लिए टोल फ्री नंबर 7998799804 संचालित किया जा रहा है। साथ ही जिले में समस्त चिकित्सा स्वास्थ इकाइयों पर जाकर लाभार्थी अपना फॉर्म महिला का आधार कार्ड, महिला के पति का आधार कार्ड ,महिला लाभार्थी की बैंक का विवरण के साथ क्षेत्रीय एनएम के द्वारा बनाया गया एमसीपी की छायाप्रति को जमा कर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए क्षेत्रीय आशा के द्वारा उक्त लाभार्थी को चिंहित कर योजना का फार्म भरकर संबन्धित क्षेत्र की चिकित्सा इकाइयों पर जमा किया जाता है।                                जिला कार्यक्रम समन्वयक अवनेंद्र कुमार राठौर ने बताया कि उक्त योजना का लाभ पाने हेतु किसी भी प्रकार के शुल्क का प्रावधान नहीं है ये योजना बिल्कुल निशुल्क है। लाभार्थियों से अपील है कि योजना का लाभ पाने हेतु जिन लाभार्थी के पास आधार कार्ड एवम बैंक खाता सम्बन्धी समस्या है वो सभी अपने निकटतम पोस्ट ऑफिस अथवा बैंक में जाकर अपना आधार कार्ड और खाता खुलवाकर सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ प्राप्त करें। 

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अनुश्रण में भारत में मातृ मृत्यु दर को कम करने के लिए लाभार्थी महिला के बेहतर खानपान और बेहतर देखभाल के लिए सरकार के द्वारा एक आर्थिक सहायता के रूप में इस धनराशि को तीन किस्तों में दिया जाता है। योजना की प्रथम किस्त महिला के गर्भधारण करने के 150 दिनों में पंजीकरण हो जाने पर 1000 रुपए महिला लाभार्थी के खाते में भेजे जाते है। योजना की दूसरी किस्त कम से कम एक प्रसव पूर्व                            जांच होने के उपरांत महिला लाभार्थी का फार्म भरने पर 2000 रुपए एवम तीसरी क़िस्त बच्चे के जन्म उपरांत 3.5 माह पर प्रथम टीकाकरण चक्र के पूर्ण होने पर तीसरी क़िस्त का फॉर्म बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र व टीकाकरण का विवरण देने उपरांत 2000 रुपए की धनराशि साथ ही सरकारी चिकित्सा केंद्र पर प्रसव करवाने पर शहरी क्षेत्रों में एक हजार रुपए और ग्रामीण क्षेत्रों में 1400 रुपए की धनराशि महिला लाभार्थी को जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत दी जाती है।         

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments