शनिवार, फ़रवरी 24, 2024
होमराजनीति2047 तक विकसित देश बन जाएगा भारत: पीएम मोदी

2047 तक विकसित देश बन जाएगा भारत: पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार यानी 26 जुलाई को कहा भारत साल 2047 तक एक विकसित राष्ट्र बनकर उभरेगा। कर्नाटक के बेंगलुरु में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट (Global Investors Meet) को संबोधित करते हुए इस बारे में बताया। मोदी ने कहा कि इस लक्ष्य को पाने में निवेश एक अहम रोल निभाएगा।

आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज हम जिस मुकाम पर पहुंचे हैं। उसका सफर कहां से शुरू हुआ था, ये याद रखना जरूरी है।  9-10 साल पहले हमारा देश Policy Level पर था और उसी level पर Crisis से जूझ रहा था। उन्होंने कहा कि हमने Investors को Red Tape के जाल में उलझाने के बजाय Red Carpet का माहौल बनाया है

नरेंद्र मोदी ने भारत में निवेश का मतलब समझाया

 सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में निवेश का मतलब समावेश में निवेश करना, लोकतंत्र में निवेश करना, दुनिया के लिए निवेश करना और एक बेहतर, स्वच्छ और सुरक्षित ग्रह के लिए निवेश करना है। साथ ही उन्होंने कहा कि इस इन्वेसमेंट और Human Capital पर फोकस करके ही विकास के ऊंचे लक्ष्यों को हासिल किया जा सकता है।

मोदी ने की स्टार्ट-अप इकोसिस्टम की तारीफ 

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने भारत के स्टार्ट-अप इकोसिस्टम के बारे में बोलते हुए कहा कि विशेष रूप से कर्नाटक राज्य इसे गति देने में अहम रोल निभा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत के 100 यूनिकॉर्न में से 40 तो सिर्फ कर्नाटक से ही आते हैं यानी उनका हेडक्वार्टर कर्नाटक में है। इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि राज्य के स्टार्ट-अप इकोसिस्टम में एक डबल इंजन की शक्ति है। भारत का स्टार्ट-अप इकोसिस्टम दुनिया में अमेरिका और चीन के बाद तीसरा सबसे बड़ा है।

औद्योगिक क्रांति में भारतीयों की क्या भूमिका है?

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान जोर देते हुए कहा कि मैं दुनिया के इन्वेस्टोर्स का ध्यान विशेष तौर पर PM गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान की तरफ आकर्षित करना चाहता हूं। उन्होंने आगे कहा कि आज जब दुनिया इंडस्ट्री 4.O की तरफ बढ़ रही है, तो इस औद्योगिक क्रांति में भारतीय युवाओं की भूमिका और भारतीय युवाओं का टैलेंट देखकर दुनिया दंग है। 

इसके साथ मोदी ने कहा कि भारत में 8 साल में 80 हजार से ज्यादा स्टार्टअप्स बन चुके हैं। आज भारत का हर सेक्टर, युवाशक्ति की ताकत से आगे बढ़ रहा है। पिछले वर्ष भारत ने रिकॉर्ड Export किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि कोविड के बाद जो हालात हैं उसमें ये उपलब्धि बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। कि भारत के युवाओं की क्षमताओं का विस्तार करने के लिए हमने Indian Education System में भी अहम बदलाव किए हैं। बीते वर्षों Technology Universities और Management Universities की संख्या में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई थी।

 

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments