गुरूवार, अप्रैल 25, 2024
होममथुराछेड़छाड़ करने वाले मनचलों पर नरमी दिखाना पुलिस को पड़ा महंगा, एसएचओ...

छेड़छाड़ करने वाले मनचलों पर नरमी दिखाना पुलिस को पड़ा महंगा, एसएचओ को किया गया तलब

मथुरा फरह में छात्राओं से छेड़छाड़ करने वाले मनचलों का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। जसमें बिना कार्रवाई थाना फरह से छोड़े जाने वाले मनचलों के मामले को न्यायपीठ बाल कल्याण समिति ने गंभीरता से लिया है। समिति के अध्यक्ष ने गुरूवार को एसएचओ फरह को तलब किया है। 16 अगस्त तक इस मामले में कार्रवाई करते हुए जांच आख्या के संग समिति के समक्ष उपस्थित होने के आदेश दिए गए हैं।

दरअसल मामला यह है जब 9 अगस्त को छात्राएं  स्कूल से घर लौट रही थी तो रास्ते में मनचलों ने छात्राओं से कस्बे की पुलिया छेड़छाड़ की थी। जिसके बाद परिजनों ने मनचले अजीम और वसीम को पकड़कर पिटाई कर दी थी। इसके बाद फरह पुलिस को सुपुर्द कर दिया था। फरह पुलिस ने सांठगांठ करके दोनों मनचलों को थाने से छोड़ दिया था। पुलिस ने इतना ही नहीं परिजनों से अभद्रता तक कर दी थी। 4 दिन बीतने के बाद भी आजतक सीओ रिफाइनरी की जांच पूरी नहीं हो सकी है। खुद सीओ रिफाइनरी ही फरह पुलिस मामले को दबाने में पूरी शिद्दत से जुट गईहैं।

न्यायपीठ बाल कल्याण समिति ने मामले को गंभीरता से लिया 

इस मामले को न्यायपीठ बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष राजेश कुमार दीक्षित ने गंभीरता से लिया। पूरे मामले में कार्रवाई करते हुए जांच के संग थाना फरह के एसएचओ राजकमल सिंह को 16 अगस्त को पूर्वाह्न 11 बजे तक तलब किया है। समिति के समक्ष उपस्थित न होने पर यह समझा जाएगा कि आप इस मामले में कुछ नहीं कहना चाहते। समिति एसएचओ के खिलाफ शासन को कार्रवाई के लिए संस्तुति करेगी।

छेड़छाड़ का मुकदमा अभी तक दर्ज नहीं

चार दिन बीतने के बाद भी न तो फरह पुलिस ने छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया और न ही मनचलों को पकड़ने के लिए कोशिश तक की। छेड़छाड़ के मामले में तूल पकड़े जाने के बाद से विद्यालय के पास पुलिस की जीप दिखने लगी है। सीओ रिफाइनरी धर्मेद्र चौहान ने बताया कि जांच की जा रही है। जांच पूरी होने के बाद रिपोर्ट सौंपी जाएगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments