सोमवार, मई 27, 2024
होमखेलक्या यही दिन देखने के लिए हमने मेडल जीते थे : विनेश...

क्या यही दिन देखने के लिए हमने मेडल जीते थे : विनेश फोगाट

23 अप्रैल से पहलवानो का धरना चालू हैं। 12 दिन हो गए इसी बीच देश के तमाम खिलाड़ी, राजनेता, और किसान पंचायत के साथ विपक्षी दल के कई नेता उनका समर्थन देने पंहुचे। सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार बृज भूषण शरण के खिलाफ दिल्ली के कनाट प्लेस में FIR दर्ज किया गया है। तब भी ये पहलवान उठ नहीं रहे है। उनकी मांग है कि बृज भूषण शरण को जेल में बंद करो लेकिन अब यह जांच का विषय है।

पहलवानो का आरोप

बीती रात दिल्ली के जंतर-मंतर पर बुधवार देर रात विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के साथ हुए विवाद के बाद रो पड़ीं। देर रात एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए विनेश ने कहा, जब हमने देश के लिए मेडल जीते थे तब कभी नहीं सोचा था कि एक दिन हमें भी यह दिन देखना पड़ेगा. मैं तो कहुंगी की देश के किसी भी खिलाड़ी को देश के लिए मेडल नहीं जीतना चाहिए।
विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) ने कैमरे के सामने रोते हुए कहा, बारिश की वजह से जहां हम अब तक जमीन में सो रहे थे वहां पर पानी भर गया जिसके लिए हमने अपने सोने के लिए चारपाई मंगाई, लेकिन पुलिस ने हमें वह चारपाई नहीं लाने दी।

 

 

 

विनेश ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाया

धरने पर बैठी शीर्ष पहलवान विनेश ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा, नशे में धुत एक पुलिसकर्मी ने हमारे साथ बदतमीजी की। उन्होंने मीडिया से कहा, हम अपने मान-सम्मान की लड़ाई लड़ रहे हैं और उस लड़ाई का सिला यह है कि यहां पर पुलिस वाले ने हमें चेस्ट से धक्का दिया।

पुलिस उपायुक्त (नयी दिल्ली) प्रणव तायल (Pranav Tayal) ने कहा, आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के नेता सोमनाथ भारती (Somnath Bharti) बिना अनुमति के ‘फोल्डिंग’ (मुड़ सकने वाली) चारपाई लेकर प्रदर्शन स्थल पर आए. तायल ने कहा कि इस बारे में सवाल किए जाने पर भारती के समर्थक आक्रामक हो गए और ट्रक से चारपाइयां उतारने की कोशिश करने लगे अधिकारी ने बताया कि इसके बाद मामूली कहासुनी हुई तथा भारती और दो अन्य को हिरासत में ले लिया गया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments