Home हाथरस किसी संगठन का ध्वज उसकी पहचान होता है – विनीत जायसवाल

किसी संगठन का ध्वज उसकी पहचान होता है – विनीत जायसवाल

पुलिस झंडा दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन में ध्वाजारोहण
पुलिस अधीक्षक हाथरस ने उत्तर प्रदेश पुलिस महानिदेशक के संदेश को पढकर सुनाया
संदेश के अनुकरण हेतु प्रेरित कर समस्त पुलिस कर्मियो को बधाई दी 

हाथरस ।

सोमवार को झंण्डा दिवस के अवसर पर पुलिस अधीक्षक हाथरस विनीत जायसवाल द्वारा पुलिस लाइन परिसर में ध्वजारोहण किया गया । जिसमें समस्त क्षेत्राधिकारीगण, प्रतिसार निरीक्षक एवं समस्त उपस्थित कर्मचारी गणो द्वारा सलामी दी गयी ।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक हाथरस द्वारा उपस्थित अधिकारी व कर्मचारीगणों को पुलिस महानिदेशक उ0प्र0 द्वारा दिये गये शुभकामना संदेश को पढकर सुनाया गया तथा सभी पुलिसकर्मियों को पूरी ईमानदारी एवं कर्तव्यनिष्ठा के साथ ड्यूटी करने का संकल्प दिलाया तथा पुलिस ध्वज का प्रतीक चिन्ह (स्टीकर) को वर्दी में लगाया गया ।
पुलिस अधीक्षक द्वारा बताया गया कि उ0प्र0 पुलिस पूरे भारतवर्ष का प्रथम राज्य पुलिस बल है, जिसे उसके अप्रीतम योगदान के फलस्वरूप पुलिस कलर अर्थात पुलिस ध्वज प्रदान किया गया है, जो हम सभी के लिये गर्व का विषय है ।

इसके बाद पुलिस अधीक्षक हाथरस द्वारा उपस्थित अधिकारी व कर्मचारीगणों को संबोधित करते हुए बताया कि किसी संगठन का ध्वज उसकी पहचान होता है । हम सभी अवगत है कि 23 नवंबर 1952 को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री श्री जवाहर लाल नेहरू ने उत्तर प्रदेश पुलिस और पीएसी को फ्लैग प्रदान किया था। प्रधानमंत्री द्वारा उत्तर प्रदेश पुलिस को यह फ्लैग पुलिस और पीएसी के बलों द्वारा उनके शौर्य प्रदर्शन और उच्च कोटि की कर्तव्यपरायणता के फलस्वरूप दिए गए थे। यह ध्वज हमारे गौरवशाली इतिहास का प्रतीक है । पुलिस ध्वज के फहराने और उसके प्रति सम्मान प्रदर्शित करते समय हमें स्वाभिमान एवं गर्व की अनुभूति होती है, हम सभी में कर्तव्यनिष्ठा की नई उर्जा संचरित होती है । इतिहास साक्षी है कि हमारे निष्ठावान साथियों की अनवरत ड्यूटी, कर्तव्यपरायणता, जन-सेवा, पराक्रम तथा कर्तव्यपथ पर प्राणोतसर्ग करने वाले आत्म बलिदानी वीर साथियों की अनगिनत गाथाओं का । यह ध्वज पुलिसकर्मियों की शौर्य एवं कर्तव्यनिष्ठा की पहचान हैं, हमें इस ध्वज की आन-बान-शान बरकरार रखनी हैं तथा सभी को इससे प्रेरित होकर पूरी ईमानदारी से कार्य करने का संकल्प दिलाया । इसके पश्चात पुलिसकर्मियों की वर्दी पर पुलिस झंण्डा का स्टीकर लगाकर उन्हें झण्डा दिवस की बधाई दी।


साथ ही पुलिस झंडा दिवस के अवसर पर जनपद के समस्त थानों पर पुलिस ध्वज फहराकर समस्त अधिकारी कर्मचारियों द्वारा सलामी दी गई । पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों ने पुलिस ध्वज का प्रतीक (स्टीकर) को वर्दी की कमीज की बांयी जेब की बटन के ऊपर लगाया गया ।