शनिवार, अप्रैल 20, 2024
होमकानपुर देहातकानपुर के बांसमंडी में लगी भीषण आग, 800 से भी ज्यादा दुकानें...

कानपुर के बांसमंडी में लगी भीषण आग, 800 से भी ज्यादा दुकानें जली

कानपुर में बांसमंडी, हमराज मार्केट के बगल में एआर टॉवर में भीषण आग लग गई. देर रात हुए हादसे में आग ने विकराल रूप ले लिया. दमकल की कई गाड़ियां मौके पर आग पर काबू पाने में जुटी हुई हैं. लगभग छह घंटे से टॉवर जल रहा है. इस हादसे में पांच कॉम्प्लेक्स आग से तबाह हो गए हैं. एक अनुमान के मुताबिक 10 अरब से ज्यादा की क्षति हुई है और 800 से भी ज्यादा दुकानें जली.

बता दें कि ये यूपी का सबसे बड़ा रेडीमेड होलसेल बाजार है. दमकल कर्मियों के द्वारा आग बुझाने का प्रयास अभी भी जारी हैं. मौके पर कानपुर कमिश्नर मौजूद हैं. अगल-बगल के जनपदों से भी मदद ली जा रही है. पुलिस के अनुसार, हवा की वजह से आग बुझाने में दिक्कत आ रही है. एयरफोर्स, आर्मी, सीओडी, ऑर्डिनेंस की  गाड़ियां भी मौके पर आ चुकी हैं. जल्द ही आग पर काबू पाने की संभावना है. एआर टॉवर में दो दर्जन से अधिक रेडीमेड कपड़ों की होलसेल दुकानें हैं. बताया जा रहा है कि आग शार्ट सर्किट से लगी जो धीरे-धीरे भड़कते हुए पूरी बिल्डिंग में फैल गई. पुलिस का कहना है कि आग लगने के कारणों की विस्तृत जांच की जाएगी.

कानपुर, उन्नाव और लखनऊ समेत कई जिलों की 50 से ज्यादा फायर ब्रिगेड की गाड़ियां आग बुझाने में लगी हैं. डीएम और पुलिस कमिश्नर ने सेना के अफसरों से संपर्क किया है. मौके पर आग बुझाने के लिए सेना की गाड़ियां भी पहुंच गई हैं. कानपुर पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड, जॉइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश तिवारी और डीएम मौके पर मौजूद हैं. एयरफोर्स, आर्मी, सीओडी आदि के अधिकारी और गाड़ियां भी मौके पर पहुंच चुकी हैं.

बांसमंडी इलाके में लगी आग की सूचना पर डिप्टी डायरेक्टर फायर अजय कुमार गुप्ता, लखनऊ भी मौके पर पहुंच गए हैं. उनके साथ हाइड्रोलिक फायर ब्रिगेड आई है. बता दें कि हाइड्रोलिक प्लेटफार्म गाड़ी कानपुर में तीन साल से खराब पड़ी है. इससे पहले भी एक गाड़ी आई थी, वो भी खड़े-खड़े बेकार हो गई.

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कानपुर आग पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि कपड़ा मंडी में लगी आग पहले से ही नोटबंदी, जीएसअी के छापों और मंदी की मार झेल रहे व्यापारियोंके लिए आर्थिक व मानसिक रूप से एक और गहरी मार है. उप्र भाजपा सरकारव्यापारियों को हुई हानि का तत्काल आकलन कर सच्चे मुआवजे की तुरंत घोषणा करे. साथ ही दमकल की क्षमता का भी आकलन होना चाहिए.

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments