सोमवार, मई 27, 2024
होमराष्ट्रीयकांग्रेस में नेताओं का टिकना असंभव होता जा रहा है

कांग्रेस में नेताओं का टिकना असंभव होता जा रहा है

कांग्रेस में नेताओं का टिकना असंभव होता जा रहा है…. देश में सबसे लंबे समय तक राज करने वाली पार्टी के पास नेताओं की कमी हो गई है…. इसका सबसे बड़ा कारण बड़े-बड़े नेताओं का पार्टी छोड़ना है….जनवरी में ही दिग्गज नेता और पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी (AK Antony) के बेटे अनिल एंटनी ने पार्टी को अलविदा कहा था और अब वह बीजेपी में शामिल हो गए हैं।

केरल कांग्रेस की सोशल मीडिया टीम के पूर्व संयोजक अनिल एंटनी (Anil Antony) ने केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal), वी मुरलीधरन, केरल बीजेपी अध्यक्ष के सुरेंद्रन की मौजूदगी में बीजेपी (BJP) का दामन थाम लिया…इस दौरान अनिल एंटनी ने कहा कि एक भारतीय युवा होने के नाते मुझे ऐसा लगता है कि यह मेरी जिम्मेदारी और कर्तव्य है कि मैं प्रधानमंत्री के राष्ट्र निर्माण और राष्ट्रीय एकता के दृष्टिकोण में अपना योगदान दूं…. आपको बतादें.. 2002 के गुजरात दंगों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री पर विवाद के बाद अनिल एंटनी ने जनवरी में कांग्रेस छोड़ दी थी. अनिल एंटनी के पिता एके एंटनी कांग्रेस सरकार में केंद्रीय रक्षा मंत्री रहे थे. इसके अलावा वे केरल के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं. एके एंटनी का नाम बड़े नेताओं में शुमार रहा है…..पार्टी छोड़ने से पहले अनिल एंटनी केरल में कांग्रेस का सोशल मीडिया सेल चलाते थे. उन्होंने पार्टी छोड़ने से पहले बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री को भारत के खिलाफ पक्षपातपूर्ण कहा था. बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने उनका बीजेपी में स्वागत करते हुए कहा कि अनिल एंटनी एक बहुआयामी व्यक्तित्व हैं. जब मैंने अनिल एंटनी की साख देखी तो मैं बहुत प्रभावित हुआ. उनके विचार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विचारों के समान हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments