शनिवार, फ़रवरी 24, 2024
होमएटाकलम पर लगाम लगाने की हो रही है कोशिश, वरिष्ठ पत्रकार को...

कलम पर लगाम लगाने की हो रही है कोशिश, वरिष्ठ पत्रकार को मिल रही धमकी

एटा के अलीगंज नगर के वरिष्ठ पत्रकार देवेंद्र शर्मा देबू के स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ एक समाचार लिखने के बाद का है स्वास्थ्य विभाग में फैले भ्रष्टाचार को उजागर करने वाले पत्रकार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी व उनके गुर्गों द्वारा लगातार धमकियां मिल रही हैं। जनपद की तहसील अलीगंज में संचालित झोलाछाप और अवैध नर्सिंग होम की खबरें प्रकाशित करना एक पत्रकार को इतना महंगा पड़ सकता है, जिसकी किसी ने कभी कल्पना नहीं की होगी। इन स्वास्थ्य विभाग के ठेकेदारों पर कार्यवाही करना तो दूर बल्कि उल्टे पत्रकार को ही नसीहत दी जाने लगी। भ्रष्टाचार की छांव में बने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से लगातार धमकियों से परेशान पत्रकार ने 27 जुलाई दिन बुधवार को सूबे के उपमुख्यमंत्री को पत्र लिखकर जांच की मांग की है।

जनपद के वरिष्ठ पत्रकार देवेंद्र शर्मा उर्फ देबू निवासी मोहल्ला गोविंदा दास, अलीगंज ने दिए शिकायती पत्र में बताया कि क्षेत्र में अवैध रूप से संचालित नर्सिंग होम, झोलाछाप, बिना पंजीयन चल रही पैथोलॉजी गरीब, बेबस लोगों की जान से खिलवाड़ कर रही हैं। जिसकी 15 जुलाई को उन्होंने खबर प्रकाशित की थी। खबर प्रकाशित होने के बाद से मुख्य चिकित्सा अधिकारी उमेश त्रिपाठी ने अपने गुर्गों से धमकियां दिलवाना शुरू कर दिया गया। अगर आपने स्वास्थ्य विभाग के बारे में इस प्रकार की खबरें प्रकाशित की तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहना। मामले की गंभीरता को देखते हुए पत्रकार ने सूबे के उपमुख्यमंत्री स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक को शिकायती पत्र लिखकर उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है ।

रिपोर्ट- पवन चतुर्वेदी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments