सोमवार, मई 27, 2024
होमअलीगढ़अलीगढ़: दो पक्षों में धर्मशाला के कब्जे को लेकर विवाद, एक पक्ष...

अलीगढ़: दो पक्षों में धर्मशाला के कब्जे को लेकर विवाद, एक पक्ष ने विरोध प्रदर्शन निकाला

थाना बन्नादेवी क्षेत्र की सराय कराए गए निर्माण कार्य को लेकर विरोध किया। दलित समाज के लोगों ने सड़क पर उतरकर कैंडल मार्च निकाला। समाज की ओर से आरोप लगाया गया कि भाजपा सरकार में भू माफिया दलित समाज की संपत्ति पर कब्जा कर रहे है। उन्होंने कहा कि भू माफियाओं के विरुद्ध कार्रवाई नहीं होने पर दलित समाज के लोग धर्म परिवर्तन करने को मजबूर होंगे।

क्या है मामला

सराय लवरिया मैं आजादी के पूर्व से स्थापित नीलकंठेश्वर बगीची में धर्मशाला की दीवार सहित अन्य निर्माण कार्य कराया गया था।  निर्माण कार्य का दलित बस्ती के लोगों ने विरोध किया था। अधिकारियों ने दोनों पक्षों से स्वामित्व प्रस्तुत करने को कहा था। वहीं दलित समाज के लोग कोई भी साक्ष्य प्रस्तुत नहीं कर सके।

साक्ष्य सही मिलने पर ट्रस्ट के लोगों ने निर्माण कार्य चालू रखा। इसी को लेकर शुक्रवार देर शाम दलित समाज के लोगों ने प्रदर्शन किया। उत्पीड़न होने और भू माफियाओं द्वारा दलितों की जमीन कब्जाने का आरोप लगाया। नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन कर कैंडल मार्च निकाला। प्रदर्शनकारी ललित कांत ने बताया कि के कुछ भू माफियाओ ने नीलकंठेश्वर महादेव बगीची पर कब्जा कर लिया है।

भू माफिया दलित समाज की बगीची पर कब्जा करने के साथ दलितों का उत्पीड़न कर रहे हैं। इस भाजपा सरकार में दलितों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है सुनवाई नहीं होने और भू माफियाओं द्वारा दलितों के उत्पीड़न करें जाने के विरोध में कैंडल मार्च निकालकर प्रदर्शन किया गया है। अगर मांगे नहीं मानी तो सराय लवरिया के दलित समाज के लोग ईसाई या इस्लाम धर्म अपनाने को मजबूर होंगे।

रिपोर्ट: शाहनवाज

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments